Seo Kya Hai: अपनी Site को SEO-Friendly कैसे बनाये?

Seo Kya Hai?

Seo Kya Hai और इसका क्या काम होता है यह सवाल अक्सर नए ब्लॉगर को बहुत परेशान करता है तो आज हम इस आर्टिकल से जानेंगे कि Seo क्या होता है और हमें क्यों Seo अपनी Website की करनी चाहिए

Seo Kya Hai?

Seo Kya Hai?
Seo Kya Hai?

Seo का फुल फॉर्म Search Engine Optimization होता है यह एक तरह का Practice होता है जिसके जरिए आप अपने आर्टिकल को Google की Search Engine पर Rank कर सकते हैं

अब आप पूछेंगे कि ऐसे करने का फायदा क्या है तो दोस्तों Seo का सबसे बड़ा फायदा यह है कि आपको Google से आपकी Website पर फ्री और Passive ट्रैफिक आता है जो आपकी Website पर हर महीने बढ़ता ही जाता है

अगर आपने Seo सही से किया है तो आपकी Articles एक नहीं बल्कि कई सारे Keywords पर Rank करेगी और आपकी ट्रैफिक हर महीने बढ़ती जाएगी


तो अब आप पूछेंगे कि हम किस तरह अपने Article / Content को Google पर ला सकते हैं Seo का इस्तेमाल करके

Seo के कई Rules और Factors है जो रैंकिंग में मदद करते हैं तो इससे पहले हम जाने कि ऐसे क्या Rules और Factors है जो Seo में मदद करती है आपको Content को Google पर Rank करने में – हम पहले यह जानेंगे कि Search Engine कैसे काम करता है?

Search Engine कैसे काम करता है?

Search Engine को आग डिजिटल वर्ल्ड का लाइब्रेरी कह सकते हैं जो आज के डिजिटल वर्ल्ड में अपनी लाइब्रेरी के अंदर बुक्स की जगह कई सारे Articles की कॉपी रखता है

जब भी आप Search Engine पर जैसे Google पर कुछ भी सर्च करते हैं तो सर्च किए गए सवाल को Google अपने Index किए हुए Pages पर ढूंढता है और कोशिश करता है कि उस सवाल से मिलता-जुलता Page जो उसका जवाब दे सके आपके सामने रखता है

Seo Kya Hai?
Seo Kya Hai?

यह काम करने के लिए Search Engine एक कंप्यूटर प्रोग्राम का इस्तेमाल करती है जिसे Algorithm कहा जाता है ऐसे तो किसी को नहीं पता कि Google का Algorithm कैसे काम करता है


पर ऐसे कई सारे गुरु है जो यह कहते हैं कि उन्हें कुछ ऐसे Clues मिले हैं जिनके जरिए उन्होंने अपने Blog और अपनी Website को Google पे Rank किया है

और वह यह मानते हैं कि अगर आप उन Rules और Clues को Follow करोगे तो आपका भी Post, Google के टॉप 10 रिजल्ट में शामिल होगा


अब Google की बात करें तो यह दुनिया की सबसे ज्यादा इस्तेमाल किए जाने वाले Search Engine पर सबसे पहले नंबर पर आता है क्योंकि Google का Algorithm सबसे ज्यादा भरोसेमंद और सठीक है

चलिए अब जानते हैं Seo कैसे काम करता है?

Seo क्या है और वह कैसे काम करता है?

Seo एक प्रैक्टिस है जिसके जरिए आप अपने Blog को Optimise और Design कर सकते हैं


जब भी आपके Blog को और Content का आप Seo करते हो तो जब भी यूजर आपके Target कीवर्ड Google पर सर्च करेगा तो टॉप 10 रिजल्ट में आपका Page भी शामिल होगा

बिना SEO के Search Engine में Rank करना काफी मुश्किल है SEO करने से Google और बाकी Search Engine को यह समझ आता है कि आपका Post किस Topic के बारे में है और Post Audience को कब दिखाना है

हर Search Engine के लिए Seo अलग होता है पर अगर आपको सबसे ज्यादा फ्री Organic ट्रैफिक अपनी Website पर चाहिए तो आप Google के एल्गोरिदम के मुताबिक Seo करें

सबसे ज्यादा Important है कि आप Google की Algorithm को समझे और उसके लिए अपनी Content की Seo करें

तो जैसा कि मैंने कहा कि हर Search Engine का अपना अलग रैंकिंग Algorithm होता है तो यह लगभग Impossible है कि मैं हर Search Engine की Seo इस Post पर Cover कर सकूं


तो हम अभी दुनिया के सबसे बड़े Search Engine पर Focus करेंगे जो की है Google और हम जानेंगे कि किस कैसे आप Seo करके Google के टॉप रैंकिंग में अपने WebPage को शामिल कर सकते हैं

Ranking के लिए अपनी Content का Seo करना क्यों जरूरी है?

अगर फेमस Search Engine – Google की बात करें तो Google के एल्गोरिदम 200 से भी ज्यादा Ranking Factors पर WebPages को Rank करते हैं 2010 में यह तक कहा गया था कि Google के 10000 Ranking फैक्टर्स भी हो सकते हैं

200 रैंकिंग फैक्टर्स क्या है यह कोई नहीं जानता पर हमने अपनी रिसर्च से कुछ Basic फैक्टर्स को इकट्ठा किया है और इस Post में शामिल किया है जिसकी मदद से आप अपने Post की Seo कर सकते हैं

आपकी जानकारी के लिए बता दूं कि Google, Web Pages को Rank करता है ना की Website को अगर आपका ब्लॉग है तो आपका HomePage नहीं बल्कि आपका लिखा गया Content / आर्टिकल Rank होगा

अगर आपका Website है तो Web Page Rank करेगा तो इसलिए बहुत जरूरी है कि आप अपने Content या Web Pages के अच्छे से Seo करें ताकि जब अलग-अलग Keywords पर अलग-अलग Content को Rank करने की आप कोशिश करें तो वह Search Engine को अच्छे से समझ आ सके और वो सही कीवर्ड पर उस Article को रैंक कर सके

Seo कितने प्रकार के होते हैं

Seo Kya Hai?
Seo Kya Hai?

Seo तीन प्रकार के होते हैं और हर एक प्रकार एक दूसरे से बिल्कुल अलग है और अलग अलग तरीके से आपके Content को Optimise करता है तो चलिए जानते हैं वह 3 SEO के प्रकार क्या है?

  • On-Page Seo
  • Off-Page Seo
  • Local Seo

On-Page Seo क्या है?

On-Page Seo प्रैक्टिस से आप अपने ब्लॉग पर ही Seo करते हैं On-Page Seo की मदद से आप अपनी Website को Seo-Friendly और User-Friendly बनाते हैं

इसमें आप अपनी Website को अच्छी तरह से डिजाइन करते हैं ताकि Users का Engagement और अच्छे से हो और उनका Experience और बेहतर हो

On-Page Seo में आप अपनी Website के Template को डिजाइन करते हैं और इसमें अच्छे से Keywords Research करके अपने Content में इस्तेमाल करते हैं अच्छे कीवर्ड से मेरा मतलब है कि जो Search Engine में सबसे ज्यादा खोजा जाता है और उस पर Competition कम हो

अच्छे से Content लिखना और उस पर कीवर्ड का इस्तेमाल करना है Seo के लिए बहुत जरूरी है जो हम On-Page Seo जैसे प्रैक्टिस में सीखते हैं

On-Page Seo में आप अपने Content / आर्टिकल के अंदर कीवर्ड को सही जगह इस्तेमाल करने का तरीका सीखते हैं जिससे कि Google को आपकी Article के Topic को समझने में आसानी हो और वह समझ सके कि आपका Content किसके ऊपर लिखा गया है

On-Page Seo में हम जानते हैं कि Keyword को किस तरह से Tiltle में, Meta Description में और Content में लिखना होता है ताकि आपकी Website का वह Post Google को समझ में आए और उसे उसी Keyword के मुताबिक Rank कर पाए जिसकी वजह से आपकी Website का ट्रैफिक बढ़ता है

उम्मीद करता हूं कि आप को On-Page Seo क्या है अच्छे से समझ आ गया होगा अगर और अच्छे से जानना है तो इस लिंक पर जाएं ऑन पर On-Page Seo

Off Page Seo क्या है?

Off Page Seo प्रैक्टिस का इस्तेमाल अपने Blog के बाहर करते हैं और Off Page Seo की मदद से आप अपने Blog को Promote करते हैं जैसे कि बड़े-बड़े Blogs पर अपने आर्टिकल के बारे में Comment करना और अपनी Website का Link सबमिट करना

जब आपकी Website का लिंक दूसरे की Website पर होता है तो उसे हम Backlink कहते हैं – Backlink की मदद से आप अपनी Website को जल्दी Google पर Rank कर सकते हैं इससे आपकी Website को बहुत फायदा होता है

यहां पर आप Social Networking Site जैसे Twiter, Tumblr, Quora, Facebook, Linkedin और Instagram पर अपनी Website का Page बनाते हैं और अपनी Website का Link डालते हैं

उसके बाद आप वहां पर अपने Followers को बढ़ाते हैं ताकि आप की Website पर Visitors आने का Chances और बढ़ जाए और वहां से आपको अच्छा खासा Blog पर ट्रैफिक मिले


प्लस ऐसा करने से Google को Signal भी जाता है कि आपकी Website काफी बेहतर है और वह किसी तरह का Spammy Site नहीं है

इसके अलावा आप कुछ बड़े-बड़े Blog में जाकर Guest Post भी Submit करते हैं ताकि वहां पर आने वाले Visitors आपको और आपकी Website को जान सके हो और आप की Website पर Traffic आना शुरू हो सके Guest Post – Backlink बनाने का सबसे अच्छा जरिया है

उम्मीद करता हूं कि आपको Off Page Seo क्या है अच्छे से समझ आया होगा और अगर और अच्छे से जानना है तो इस लिंक पर जाएं Off Page Seo क्या है?

Local Seo क्या है

Local Seo से आप समझ सकते हो कि इसका मतलब क्या होता है अगर आपकी Website लोकल Audience को Target करता है या किसी खास Country को – तो आप Local Seo की मदद से Search Engine पर और बेहतर तरीके से Rank कर सकते हैं और लोकल Audience ko Target कर सकते हैं

जैसे कि अगर आपका Blog हिंदी में है तो Local Seo की मदद से आप सिर्फ उन्हीं इलाकों पर अपने Blog को अच्छे से Rank कर सकते हैं जहां पर हिंदी बोली जाती है जैसे India

और अगर आपका Blog Bengali में है तो आप West Bengal और Bangladesh को सिर्फ Target करके उस लोकल Address पर अपनी रैंकिंग को Search Engine पर और बेहतर कर सकते हैं

उम्मीद करता हूं कि आपको Local Seo क्या है अच्छे से समझ आ गया होगा!


Seo की मदद से अपने ब्लॉग को Google के लिए कैसे Optimise करें?

Seo की मदद से अपने ब्लॉग को Google के टॉप पेजेस पर ला सकते हैं यह Depend करता है कि आपने कितनी अच्छी तरह से अपनी Content की Seo की है

याद रखे Google किसी Page या आर्टिकल को Rank करने के लिए 200 से भी ज्यादा अलग-अलग रैंकिंग फैक्टर्स को चेक करता है और उसके बाद ही आप के Content को Rank करता है


तो हम आगे जानते हैं कि आप किस तरह Seo की मदद से अपने आर्टिकल को और Website को Optimise कर सकते हैं

Seo करके Google के लिए आप अपने Page / Website को आसान बनाते हैं ताकि Google आपके Content और Website को अच्छे से समझ सके और Topic को समझकर Keyword के ही मुताबिक उसे Rank कर सके

तो कुछ बहुत important Factors जो आपको जानना बहुत जरूरी है ताकि आप अपनी Website पर आर्टिकल को Seo-Friendly जल्दी बना सके वह हम यहां पर Discuss करेंगे

Crawlability

Seo Kya Hai?

इससे पहले कि Google आपके किसी भी Post को Rannk करें, Google को पहले यह बताना होगा कि आप इंटरनेट पर मौजूद है और आपकी Website इंटरनेट पर Live है

Google कई तरीके से आपकी Website को Crawl कर सकता है और उस पर मौजूद नए Content को ढूंढ सकता है

सबसे आसान तरीका है आप किसी बड़े मीडिया Website पर अपना लिंक छोड़ दे ताकि जब Google उस Website के Page को Crawl करेगा तो उस पर मौजूद आपके Content के Link केजरिए आपकी Web Page को Crawl करेगा

पर मैं यही Recommend करूंगा कि आप खुद से Manually Google को Request करें कि वह आये और आपकी Website को Crwal करें


Google एक कंप्यूटर प्रोग्राम का इस्तेमाल करता है जो Website को Crawl करने के लिए मदद करता है उस प्रोग्राम का नाम है “Spider”

अगर आप Manually अपनी Website को Submit करते हैं तो आपकी Website जल्दी Crawl होगी, जितनी जल्दी आप का Post / Content Crawl होगा, उतनी ही जल्दी Google अपने Content को Rank करेगा

इसके लिए सबसे पहले आपको अपनी Website का Sitemap में बनाना पड़ता है उसके बाद Web Master में जाकर उस Sitemap को Submit करना पड़ता है

Sitemap सबमिट करने से Google को आपकी Website Crawl करने में आसानी होगी और जब भी आपको कोई नया Post पब्लिश करोगे उसका लिंक आपके सबमिट किए साइटमैप में ऑटोमेटिक सबमिट हो जाएगा

पर कुछ ऐसे Mistakes भी है जिसकी वजह से आप Google के Crawler को आने से Website पर रोक सकते हैं तो चलिए जानते हैं कि आप किन चीजों का ध्यान रखें और कोशिश करें कि यह Mistakes आपके ब्लॉग पर मौजूद नहीं है

खराब Inter Linking करना – अगर आपने Website पर और Content पर आपने इंटरनल लिंक नहीं डाले हैं तो इसका बहुत ज्यादा Chance है कि आपकी Website के कई सारे Post Crawl नहीं होंगे

Internal Link को No Follow करना – अगर आपने Content में डाले हुए इंटरनल लिंक्स को No Follow Tag के साथ Publish या Submit किया है तो इसकी वजह से Google आपकी उस नो फॉलो लिंक को Crawl नहीं करेगा

Blocks in robot.txt – यह एक Text फाइल होता है जो Google को बताता है कि वह आपकी Website पर आ सकता है कि नहीं – और कौन सी Pages को Crawl करना है और Rank करना है

अगर आपने किस फाइल में Google Crawler या किसी Page को Block किया होगा तो Google इस Page को Crawl नहीं करेगा और आपकी Website कभी भी Google पर Rank नहीं होगी

No-Index Pages – अगर आपने कुछ ऐसे Page और Content बनाए हैं जिसमें No-Index Meta Tag का इस्तेमाल किया है तो Google उस No-Index वाले Page और Content को Crawl / Index नहीं करेगा

Mobile- Friendly

Seo Kya Hai?

Google के 60% सर्च Mobile Device से ही होते हैं और हर साल नंबर बढ़ता ही जा रहा है यह Surprise की बात नहीं है कि क्यों 2016 में Google ने Announce किया था कि अगर आपकी Website, Mobile-Friendly नहीं होगी तो उनकी Ranking थोड़ी कम हो जाएगी

2018 में Google ने खुद अपने Search Engine को मोबाइल फर्स्ट इंडेक्सिंग में शामिल किया है और अब वह मोबाइल Version Pages को Index और Rank भी करता है – तो यह बहुत जरूरी कि आप अपने Website को मोबाइल फ्रेंडली बनाएं

अगर आपका Website मोबाइल Friendly नहीं है तो आप किसी Developer को Hire कर सकते हो उसे Fix करने के लिए और या तो आप Youtube वीडियो में सर्च करके – ऐसे कई सारे वीडियो की मदद से खुद ही इस Problem का Solution निकाल सकते हो

2020 में मोबाइल फ्रेंडली Content बहुत ज्यादा Matter करेगा और मोबाइल फ्रेंडली Website ही आपको ज्यादा दिखेंगे अगर आपकी Website मोबाइल फ्रेंडली नहीं है तो मैं यही Recommend करूंगा कि सबसे पहले अपनी Website को मोबाइल फ्रेंडली बनाएं

Page Speed

Page Speed का मतलब होता है कि आपका Page कितनी जल्दी Desktop और Mobile पर खुलेगा – Google चाहता है कि उसके Users हमेशा Satisfy रहे मतलब की खुश रहे इसलिए यह बहुत जरूरी है कि आप अपने Website की Page Speed को Maintain करके रखें

एक अच्छा Page Speed 3 सेकंड होता है अगर आपकी वेब Page की स्पीड 3 सेकेंड से कम है तो आपका Page स्पीड बहुत अच्छा है और अगर 1.5 सेकंड से कम है तो सबसे ज्यादा बेहतर है मैं यही Recommend करूंगा कि आप अपनी Website की स्पीड को बेहतर करें

Low Page Speed होने से आपकी Website को Ranking में बहुत ज्यादा मुश्किल होगी और अगर किसी भी तरीके से ank हो गई तो Future में मतलब कि भविष्य में शायद उसकी रैंकिंग खराब हो जाए

Search Intent

Seo मैं यह बहुत जरूरी होता है कि आप सही Search Intert को समझे Search Intent का मतलब होता है कि आप एक ऐसे Keyword को खोजें और उस पर Post लिखें जिस पर आप आसानी से Rank कर सकते हैं और उस Keyword के मुताबिक आप पोस्ट लिख सकते है

अगर आप ऐसे ही Post लिखते जा रहे हैं बिना Keyword Research किये है तो इसमें 90% चांस है कि आपका वह Post और आर्टिकल कभी Rank नहीं करेंगे

तो सबसे पहला काम किसी आर्टिकल को लिखने से पहले यह करना है कि जिस Topic पर आप लिखना चाहते हैं उस पर अच्छे से आप Keyword Research करें और एक ऐसा Keyword निकाले जिस पर Competion भी Low और सर्च ट्रैफिक भी ठीक-ठाक हो

कई लोगों की गलती करते हैं कि वह एक ही Post में 10-12 कीवर्ड को add कर देते हैं जिसकी वजह से उनका Post कभी भी Rank नहीं होता

आपको यह गलती नहीं करनी है आप इसमें एक Focus चुने और उसके साथ दो अलग अलग Secondary Keyword जो लॉन्ग प्रिंट कीवर्ड हो

3 कीवर्ड काफी होते एक Post को Rank करने के लिए ज्यादा Keywork होने से Search Engine कंफ्यूज हो जाता है कि आपके Content को किस टॉपिक पर और किस Keyword पर Rank करना है

इसकी वजह से Google भी समझ नहीं आएगा क्या कि आपका Post किस Topic को Cover कर रहा है और उसे किस Keyword पर Rank करना है

Backlink

Seo Kya Hai?

अच्छे Backlink बनाने से आपकी Website के Content बहुत जल्दी Google पर Rank करता है अगर आपने अच्छे Backlink अच्छी Website से बनाए हैं तो आपकी Website को अच्छा खासा Ranking में Boost मिलेगा

Simple में कहे तो जितना Backlink होगा उतना चांस है कि आपका Post Hinh Rank करेगा पर कुछ लोग Spam Website से Backlink बना लेते हैं जिसकी वजह से उन्हें Google Penalize कर देता है और उनकी Website को Ranking से हटा देता है

तो इसलिए बहुत जरूरी कि इससे पहले कि आप Backlink किसी Website पर बनाये आप उस Website के Spam Score को Check करें ताकि आप की Website पर उस Backlink से Positve यानी कि सही असर पड़े

Domain Authority

गूगले ने कभी भी Website Authority को Ranking Factors में शामिल नहीं किया है नाही कोई Announcement उन्होंने किया है जिससे यह साबित हो सके कि Ranking में Domain Authority Matter करता है

पर कुछ Blogging Gurus कहते हैं कि जैसे-जैसे उनकी Domain Authority बढ़ी उनका Post High Rank करता गया अब कुछ लोग सोचेंगे कि Domain Authority कैसे बढ़ाये? Domain Authority बढ़ाने का Manually एक तरीका है – जितने हो सके उतने Backlink बनाएं

हालांकि Backlink के अलावा आपके Domain Authority आपकी Doamin Age पर भी Depend करता है और उसके Niche पर भी इसलिए बहुत जरूरी कि आप एक Targeted Keyword पर अपना Content को लिखे और अपने ब्लॉग को थोड़ा Time दे

अधिकतर देखा गया कि आपके Blog को जब 6 महीने से ज्यादा Time हो जाता है तब Google उसे टॉप टेन Page पर Rank करना शुरू करता है


हालांकि यह Time कुछ Fix नहीं है अगर आप Lucky हो तो 3 महीने के अंदर भी Rank कर सकते हो यह तो Depend करता है आपके ऊपर और आपके Smart Works पर

Content Quality

आप भले ही बाकी सारे Point को भूल जाए, मगर यह सबसे Important चीज है जो Ranking में आपको सबसे ज्यादा मदद करेगी अगर आप Long-Term प्लान कर रहे हो तो अगर आपकी Content की क्वालिटी अच्छी होगी तो आपको Ranking में काफी मदद मिलेगी

मान लीजिये आपने Content लिखा जिसकी Quality बिल्कुल अच्छी नहीं है और किसी तरीके से आपने टॉप 10 Page पर Rank भी कर लिया तो इसका ज्यादा चांस है कि आपकी Website को Users बार-बार देखकर वापस बैक बटन टिपके Exit ले लेंगे

ऐसा होने पर Google को एक Red Signal जाएगा और बताएगा की Website पर Content अच्छा नहीं है और उसकी वजह से आपकी Website की Ranking को धीरे-धीरे वह कम करने लगेगा

कोशिश करें कि आप जिस Keyword Target कर रहे हैं आपको उसका मतलब पता हो और आप उसी के मुताबिक अपने Content को लिखे

मान लीजिये अगर आपने Keyword चुना ” Buy Cooker ” कर तो आपने उस पर Content लिखा है Cooker कैसे इस्तेमाल करें तो उस पर 100 परसेंट Chance है कि आप कभी Rank नहीं कर पाओगे और अगर कर भी ले तो ज्यादा दिन तक नहीं

क्योंकि इस Key Word का मतलब है कि जब भी कोई इस Keyword को Search कर रहा है तो उसे Cooker खरीदना है ना कि उसे जानना है कि Cooker का इस्तेमाल कैसे करते हैं – तो आप ध्यान रखें कि जो Keyword आप चुन हैं वह Content से मैच करें

ख्याल रखिए Keyword जब कोई User टाइप करता है तो उसका Intention क्या है और उसे उसके मुताबिक अपने Blog के Content को लिखें

अंतिम विचार

उम्मीद करता हूं आपको यह Post समझ आया होगा कि Search Engine कैसे काम करता है और Seo क्या है.

मैंने इस Post में पूरी कोशिश की है कि आपको अच्छे से समझा सकू की Seo क्या है और यहां पर मैंने शॉर्ट में आप को On Pgae Seo क्या है और Off Page Seo क्या है और लोकल Seo क्या है – समझाया है

यह जो Factors ऊपर मैंने आपको बताया है वह कुछ Important Points है जो आपको Ranking में मदद करेगा अगर आप इन को अच्छे से अपने ब्लॉग और Website पर Implement करोगे तो – मैं गारंटी देता हूं कि आप 6 महीने के अंदर ही अंदर फर्क देख सकोगे

अगर यह Post आपको अच्छा लगा तो नीचे Comment करके बताएं कि आप कौन से Blog पर काम कर रहे हो और हां अगर मैं Post में कुछ add करना भूल गया तो comment में बताएं ताकि मैं इस Post को Improve कर सकूं और मिलते हैं अगले Post पर तब तक के लिए “जय हिंद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *